रामजी कृपा करो ना

राम जय जय राम
राम जय जय राम
राम तुझे जपता रहूँ मैं
तेरी धुन में बैठा रहूँ मैं
हालात हो ऐसे अब तो करो ना
रामजी कृपा करो ना
रामजी कृपा करो ना

हमको पता तुम सबसे बड़े
तुम हो बड़े बेअंत
अच्छे बुरे का तुम ही तो फल देते हो तुरंत
मुझसे ना ना खफा रहो न
ना ना खफा रहो ना
हाथ सर पे धरो ना
रामजी कृपा करो ना
रामजी कृपा करो ना

राम जय सिया राम सिया राम
राम जय सिया राम जय राम

दूर करो तुम दूर करो ना
मोह माया की दल दल
नहीं करू मैं कपट किसी से
नहीं करू किसी से कोई छल
देखो मैं हूँ बालक तेरा
कष्ट मेरे हरो ना
रामजी कृपा करो ना
राम जय राम सिया राम

महा मंत्र का तेरे स्वामी जो करता उपयोग
सुख संपत्ति घर में आती
धन का बने संयोग
गम की धुप में तड़प रहा मैं

गम की धुप में तड़प रहा मैं
छाया सुख की करो ना
रामजी कृपा करो ना

मांझी बाके तुम्ही सबकी नैया पार लगाते
मुश्किल से मुश्किल कारज को तुम आसान बनाते
मेरे मन की गागर में तुम
प्रेम का रास अब तो भरो ना
रामजी कृपा करो ना

राम तुझे जपता रहूँ मैं
तेरी धुन में बैठा रहूँ मैं
हालात हो ऐसे अब तो करो ना
रामजी कृपा करो ना
रामजी कृपा करो ना

Leave a Reply