रामजी का मंदिर बनेगा धीरे धीरे

रामजी का मंदिर बनेगा धीरे धीरे
सरयू के तीरे, सरयू के तीरे
रामजी का मंदिर बनेगा धीरे धीरे
सरयू के तीरे, सरयू के तीरे।।

रज सभी विधाओं की आई अयोध्या
जल सारी नदियों से पहुँचा अयोध्या
चाँदी की हैं इंटें, नीव मे समाई
हीरे और मोती से पूजन है कराई
कलस पूजन होगा जन्मभूमि तीरे।।

रामजी का मंदिर बनेगा धीरे धीरे
सरयू के तीरे, सरयू के तीरे।।

ऊँचे ऊँचे शिखारों की कल्पना करी है
भव्य मंदिर की नीव पड़ी है
खुश हैं सभी साधु संत, नर-नारी
देश विदेश मे भी खुशियाँ हैं न्यारी
नाचेंगे गाएँगे भक्त धीरे धीरे।।

रामजी का मंदिर बनेगा धीरे धीरे
सरयू के तीरे, सरयू के तीरे।।

Leave a Reply