मेरे राम तो सब के प्यारे करते वारे न्यारे

श्री राम चंद्रा की जय जीतने तारे गगन में उतने शत्रु होये
जिनपर कृपा रघुनाथ की उसका बाल ना बांका होये
आसमान में जीतने सितारे उतने भगत राम ने तारे
मेरे राम तो सब के प्यारे करते वारे न्यारे
बोलो राम राम बोलो राम राम।।

बाला पन मे विश्वा मित्रा ले गये राम को वन मे
यज्ञ हवन की रक्षा करने ओर तड़ाका हराने
देतयो का वध करके राम दुश्टों के शीश उतरे
रक्षो से रक्षा करके रिशरी के काज सवरे
बोलो राम राम राम।।

चरण पखार केवट ने नाव ने प्रभु बिताया
पत्थर की शीला को राम ने अहालिया नारी बनाया
झूठे वर राम ने खा के शबरी को स्वर्ग पठाया
वन में करके वाली वध सुग्रीव को राज्ये दिलाया
बोलो राम राम राम।।

रावण राज को छोड़ विभीषण राम शरण में
सोने की लंका के राजा राम जी उन्हें बनाए
स्वर्ण नगर के सारे दानव रघुपति ने संगारे
अत्याचार से मुकट करा के प्रजा को राम उभरे
बोलो राम राम राम।।

Shri Ram Chandra Ki Jai Jitne Taare
Gagan Mein Utne Shatru Hoye
Jinpar Kripa Raghunath Ki Uska Baal Na Banka Hoye
Asamaan Mein Jitne Sitare Utne Bhagat Ram Ne Tare
Mere Ram To Sab Ke Pyare Karte Vare Nayare
Bolo Ram Ram Bolo Ram Ram

Bala Pan Me Vishwa Mitra Le Gaye Ram Ko Van Me
Yagya Hawan Ki Raksha Karne Or Tadaka Harane
Detyo Ka Vadh Karke Ram Dushton Ke Sheesh Utare
Raksho Se Raksha Karke Rishri Ke Kaj Savare
Bolo Ram Ram Ram

Charan Pakhar Kevat Ne Nav Ne Prabhu Bithaya
Patthar Ki Shila Ko Ram Ne Ahaliya Nari Banaya
Jhuthe Ver Ram Ne Kha Ke Shabari Ko Svarg Pathaya
Van Mein Karake Vali Vadh Sugriv Ko Rajye Dilaya
Bolo Ram Ram Ram

Ravan Raj Ko Chhod vibhishan Ram Sharan Mein
Sone Ki Lanka Ke Raja Ram Ji Unhen Banaye
Svarn Nagar Ke Sare Danav Raghupati Ne Sangare
Atyachar Se Mukat Kara Ke Praja Ko Ram Ubhare
Bolo Ram Ram Ram

Leave a Reply