बुट्टी तू पिला दे मने राम नाम की

दुनिया रही न बाबा मेरे काम की
बुट्टी तू पिला दे मने राम नाम की
दुनिया रही न बाबा मेरे काम की।।

जो दुनिया पे हार के आया
बाला जी तने वो गले से लगाया,
पिलादे न बूंद भगती के जाम की
दुनिया रही न बाबा मेरे काम की।।

नाव भवर में है दूर किनारा
बाला जी हो मने तेरा सहारा,
पार लगा दे बोलके जय श्री राम की
दुनिया रही न बाबा मेरे काम की।।

दीसी सिंह का से ज्ञान अधुरा
तेरी दया से बाबा हो जा पूरा
शान से भगत यो मगन गाम की
दुनिया रही न बाबा मेरे काम की।।

Leave a Reply